PUBG ने 16 के साल लड़के की जान ली ! मरने से पहले चिल्लाया [ब्लास्ट कर, ब्लास्ट कर]

    0
    192

    मध्य प्रदेश / Atulya Loktantra: PUBG Game खेल रहे 16 साल के लड़के की जान गयी खेलने से उसके भाई की मौत हुई है. वो मरने से पहले जोर-जोर से चिल्ला रहा था कि अयान तूने मुझे मरवा दिया. मैं हार गया, अब तेरे साथ नहीं खेलूंगा.

    PUBG गेम ने 16 के साल लड़के की जान ली :

    मध्य प्रदेश के नीमच में एक 16 साल के बच्चे फुरकान कुरैशी की मौत पब्जी गेम (PUBG) खेलने से हो गई. बच्चे के पिता हारून राशिद कुरैशी के मुताबिक, उनका बेटा फुरकान लगातार 6 घण्टे से मोबाइल पर पब्जी गेम खेल रहा था. मरने से पहले वो चिल्लाने लगा कि ब्लास्ट कर, ब्लास्ट कर और उसकी मौत हो गई. अस्पताल भी ले गए थे लेकिन डॉक्टरों ने बताया कि इसके दिमाग पर जोर पड़ने से मौत हो गई है.

    Read More Details PUBG Mobile: India weighs ban on popular online game after deaths 

    Furkan Qureshi
    Furkan Qureshi

    फुरकान कुरैशी 16 साल का था और नसीराबाद के केंद्रीय विद्यालय में 12वीं का छात्र था. वो अपने परिवार के साथ नीमच एक सगाई के कार्यक्रम में आया था. फुरकान का परिवार भी पहले नीमच में रहता था. फुरकान बहुत एक्टिव बच्चा था. उसकी मौत से घर में खुशियों का मौहाल मातम में बदल गया.

    PUBG Game खेल रहे 16 साल के लड़के की जान गयी

    फुरकान 25 मई को रात 2 बजे तक पब्जी खेलता रहा, फिर 26 की सुबह वह उठा, खाना खाया और लगातार 6 बजे तक पब्जी खेलता रहा. और गेम में जब उसका कैरेक्टर मरा तो उसकी भी मौत हो गई.

    फुरकान की मौत उसकी छोटी बहन फिज़ा के सामने ही हुई. फिज़ा ने रोते हुए बताया पब्जी खेलने से उसके भाई की मौत हुई है. वो मरने से पहले जोर जोर से चिल्ला रहा था कि, अयान तूने मुझे मरवा दिया. मैं हार गया, अब तेरे साथ नहीं खेलूंगा.

    PUBG Game खेल रहे 16 साल के लड़के की जान गयी

    वहीं इस मामले में नीमच के हृदय रोग चिकित्सक डॉ अशोक जैन का कहना है कि गेम खेलते खेलते बच्चे अपने आपको उस से कनेक्ट कर लेते है और अत्यधिक एक्साइटमेंट में अक्सर कार्डियक अरेस्ट का शिकार हो जाते हैं. डॉ जैन ने अपील कि है कि बच्चों को ऐसे गेम से दूर रखना चाहिए.

    मृतक फुरकान के भाई मो. हाशिम ने बताया कि पब्जी गेम का एक नशा सा रहता है, जिसे लोग 18 घण्टे तक खेलते हैं, इसे खेलते वक्त कुछ भी ध्यान नहीं रहता. हर खेलने वाले की एक ही जिद होती हैं कि उसे हर हाल में गेम जितना ही है. मैं भी पब्जी खेलता था लेकिन मेरे भाई की मौत के बाद मैंने डिलीट कर दिया.

    Read Also take With News18

    Gamers arrest for playing ‘PUBG’ on their phones in India

    BuzzFeed’s reports that officers were on the lookout for young people in public places with their phones in landscape mode, A sure indication they might be playing the game. ban in the Indian state of Gujarat in early March, resulting in a separate arrest of 10 students that made international headlines.

    Many of those arrest were let off with warnings or small fines, others spent nights in jail for the crime of playing a video game. Even if the punishments weren’t severe, the report point to the trauma of being arrest and the stigma surrounding it as lasting effects of the laws.

    The Gujarati cities of Ahmedabad and Rajkot eventually lifetime the bans in April and May, respectively. Read More 

    Previous Most Popular News Storiesअमित शाह के बाद कौन होगा भाजपा का नया अध्यक्ष?
    Next Most Popular News Storiesसराय स्कूल में मनाया विश्व निषेध तम्बाकू दिवस
    इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here