स्वामी चिन्मयानंद मामला : कांग्रेस को न्याय पद यात्रा निकालने की नहीं मिली इजाजत

    0
    5

    नई दिल्ली/अतुल्यलोकतंत्र : स्वामी चिन्मयानंद पर लगे यौन उत्पीड़न के आरोपों के खिलाफ कांग्रेस को न्याय पद यात्रा निकालने की इजाजत नहीं मिली है. प्रशासन ने कांग्रेस को पदयात्रा की अनुमति देने से इनकार कर दिया है. प्रशासन ने शाहजहांपुर में उनके घर के बाहर पुलिस बल तैनात कर दिया गया है. कांग्रेस कार्यालय के बाहर भी पुलिस और पीएसी तैनात कर दी गई है. फिलहाल जितिन प्रसाद का कहना है कि सरकार उनके संवैधानिक अधिकार को दबाने की कोशिश कर रही है. कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद ने कहा है कि यूपी कश्मीर नहीं है, फिर भी उन्हें यहां न्याय पद यात्रा निकालने की इजाजत नहीं मिल रही है.

    जितिन प्रसाद ने कहा कि उन्हें नजरबंद कर लिया गया है और उनके घर के बाहर पुलिस बल तैनात कर दिया गया है. जितिन प्रसाद ने अपने घर से एक वीडियो भी ट्विटर पर पोस्ट किया है. इस मामले पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार पर निशाना साधा है.

    उन्होंने ट्वीट कर कहा कि उत्तर प्रदेश में अपराधियों को सरकार का संरक्षण है कि वो बलात्कार से पीड़ित लड़की को डरा-धमका सकें. बीजेपी सरकार शाहजहांपुर की बेटी के लिए न्याय मांगने की आवाज को दबाना चाहती है. पदयात्रा रोकी जा रही है. हमारे कार्यकर्ताओं नेताओं को गिरफ़्तार किया जा रहा है. डर किस बात का है. उप्र भाजपा सरकार शाहजहांपुर की बेटी के लिए न्याय माँगने की आवाज को दबाना चाहती है। पदयात्रा रोकी जा रही है। हमारे कार्यकर्ताओं नेताओं को गिरफ़्तार किया जा रहा है। डर किस बात का है?

    बता दें कि स्वामी चिन्मयानन्द मामले में उत्तर प्रदेश कांग्रेस सोमवार को शाहजहांपुर से लखनऊ तक पदयात्रा शुरू करने वाली थी. कांग्रेस की यह यात्रा पीड़ित छात्रा को इंसाफ दिलाने के लिए आयोजित की जा रही थी

    Previous Most Popular News Storiesमनोहर सरकार बनाने के लिए विपुल गोयल ने युवाओं से की अपील
    Next Most Popular News Storiesउत्तर प्रदेश में भारी बारिश-बाढ़ के कारण 107 लोगों की मौत
    इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here