RCom की संपत्ति बेचकर भी 20 फीसदी ही कर्ज चुका पाएंगे अनिल अंबानी

0
15
रिलायंस कम्युनिकेशन
रिलायंस कम्युनिकेशन

New Delhi/Atulya Loktantra : रिलायंस कम्युनिकेशन के मालिक अनिल अंबानी 49 हजार करोड़ का कर्ज चुकाने के हर संभव प्रयास कर रहे हैं। इसके बावजूद परेशानी यह है कि अंबानी यदि RCom की संपत्तियों को बेचते हैं तो उन्हें सिर्फ 10 हजार करोड़ रुपये मिलने की उम्मीद जताई जा रही है। ऐसे में वह अपने कुल कर्ज की 20 फीसदी रकम ही चुका पाएंगे।

रिलायंस कम्युनिकेशन
रिलायंस कम्युनिकेशन

इसमें भी मुश्किल यह है कि यदि अनिल अंबानी रिलायंस कम्युनिकेशन की संपत्तियों को बेचने में देरी करेंगे तो इस बिक्री से मिलने वाली रकम पहले की तुलना में और कम हो जाएगी। ईटी की खबर के अनुसार इस मामले के जानकार लोगों का कहना है कि यदि दिवाला प्रक्रिया अगले कुछ महीनों में पूरी हो जाती है तो रिलायंस कम्यूनिकेशन और इसकी दो यूनिट जिसमें स्पेक्ट्रम और टॉवर्स शामिल हैं, की बिक्री से 9000 से 10 हजार करोड़ की राशि मिल सकती है।

खबर के अनुसार मामले से प्रत्यक्ष रूप से जुड़े एक व्यक्ति ने बताया कि टेलीकॉम संपत्तियों विशेषकर स्पेक्ट्रम की कीमत समय बीतने के साथ कम होती जाएगी। साथ ही सफल बिक्री के लिए सभी तरह की मंजूरी की आवश्यकता होगी। मालूम हो कि वर्तमान में रिलायंस कम्यूनकेशन और इसकी दो यूनिट रिलायंस इंफ्राटेल और रिलायंस टेलीकॉम की दिवाला प्रक्रिया चल रही है।

Reliance Communications Share Price Live – 0.85, Reliance Communications Stock Price Today – The Economic Times

Reliance Communications  Stock Price Today - The Economic Times
Reliance Communications Stock Price Today – The Economic Times

कंपनी अपनी परिसंपत्तियां जिसमें 850 मेगाहर्ट्ज बैंड के एयरवेव, 43000 टेलीकॉम टॉवर और कुछ फाइबर बेचने का प्रयास कर रही है। 850 मेगाहर्ट्ज बैंड के एयरवेव का प्रयोग देश के 22 टेलीकॉम सर्कल में 14 में 4जी सेवाओं के लिए प्रयोग किया जा सकेगा। मालूम हो कि रिलायंस कम्यूनिकेशन की परिसंपत्तियों को खरीदने में अभी तक रिलायंस जियो और भारती एयरटेल ने रुचि दिखाई

Previous Most Popular News Storiesचाकू लेकर संसद भवन में घुसने की कोशिश कर रहा युवक पकड़ा गया
Next Most Popular News Storiesअपराधियों के हौसले बुलंद, एक और पत्रकार से मारपीट
इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here