सावधान! Big Billion Sale under Fraud with Flipkart or Amazon

0
25
सावधान! Big Billion Sale under Fraud with Flipkart or Amazon
सावधान! Big Billion Sale under Fraud with Flipkart or Amazon

New Delhi/Atulaya Loktantra : Flipkart और Amazon पर इन दिनों फेस्टिव सीजन सेल चल रही है. प्रॉडक्ट्स पर जम कर छूट मिल रही है. लेकिन आप किसी भी प्रोडक्ट को खरीदने से पहले सावधानी बरतें, वर्ना अकाउंट खाली हो सकते हैं. हर बार सेल के दौरान फ्रॉड ज्यादा ऐक्टिव होते हैं और नए ट्रिक्स से लोगों को ठगते हैं.

Flipkart और Amazon इसके लिए लोगों को अगाह करते रहे हैं. आपको फोन पर मैसेज आता है कि फ्लिपकार्ट या ऐमेजॉन पर बंपर discount मिल रही है. आप ओपन करते हैं, लॉग इन करते हैं, प्रॉडक्ट्स खरीदते हैं. लेकिन आपके पैसे फ्रॉड को जाते हैं. ऐसे कई उदाहरण मिले हैं.

Flipkart or Amazon Big Billion Sale under Fraud

इस तरह के फ्रॉड काफी आसानी से अंजाम दिए जाते हैं. पहले फ्लिपकार्ट या ऐमेजॉन जैसी दिखने वाली फेक वेबसाइट तैयार की जाती है. डोमेन नेम असली से मिलता जुलता रखा जाता है. लॉग इन पेज हूबहू असली दिखता है.

सावधान! Big Billion Sale under Fraud with Flipkart or Amazon
सावधान! Big Billion Sale under Fraud with Flipkart or Amazon

ये कुछ फेक वेबसाइट हैं जो फ्रॉड करती हैं. flipkart.dhamaka-offers.com, flipkart-bigbillion-sale.com . अगर आपको इस तरह की वेबसाइट मिले तो इस पर क्लिक न करें. ये फ्लिपकार्ट से जुड़ी हुई वेबसाइट नहीं हैं. फ्लिपाकर्ट का कहना है कि ऐसी वेबसाइट का लिंक मिलने पर आप फ्लिपकार्ट को रिपोर्ट करें.

Flipkart or Amazon Big Billion Sale under Fraud

login पेज के बाद प्रोडक्ट पेज भी असली जैसा ही लगता है. लेकिन यहां डील ऐसी होंगी जो आपको चौंका देंगी. जैसे किसी प्रोड्क्ट की कीमत 10000 रुपये हैं तो यहां वो 1000 रुपये या 100 रुपये में मिलती हुई दिखेंगी. इस चक्कर में लोग बिना कुछ सोचे समझे क्लिक कर लेते हैं.

लॉग इन पेज और प्रोडक्ट पेज के बाद पेमेंट गेटवे का नंबर आता है. यहां भी असली गेटवे जैसा ही लगेगा. लेकिन आपका पेमेंट फ्रॉड करने वाले को मिलेगा और आप ठग लिए जाएंगे. आम तौर पर लिंक वॉट्सऐप और सोशल मीडिया के जरिए फैलाए जाते हैं.

सावधान! Big Billion Sale under Fraud with Flipkart or Amazon

इस तरह के लिंक में ऊपर लिखा होता है, ‘मैने भी खरीदारी की है, ये असली और यहां से तुम जल्दी क्लिक करके XXXX प्रोड्क्ट खरीद लो, सेल खत्म होने वाली है’. मैसेज बिल्कुल बोलचाल की भाषा में तैयार किए जाते हैं, ताकि आपको ये असली लगें और आप यहां दिए गए लिंक को क्लिक कर लें.

इन सबसे बचना काफी आसान है. आप खरीदारी करते वक्त डोमेन नेम को चेक करें, कहीं भी कोई स्पेलिंग गलत हो या कोई वर्ड्स सही नहीं हों तो समझ लें कि ये फर्जी है. कंप्यूटर के ब्राउजर के URL टैब को ध्यान से देखें आपको खुद अंदाजा हो जाएगा.

Previous Most Popular News Storiesदेश की पहली प्राइवेट ट्रेन तेजस शुरू, लखनऊ में CM योगी ने दिखाई हरी झंडी
Next Most Popular News Storiesजब रावण ने माँ जानकी का किया हरण
इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here