उच्च न्यायालय के जज वी.चितंबरेश के ब्यान पर पैदा हुआ घमासान

0
22

New Delhi/Atulya Loktantra : उच्च न्यायालय के जज के एक बयान पर विवाद पैदा हो गया है। उच्च न्यायालय के जज वी. चितंबरेश ने एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि ब्राह्मणों का दो बार जन्म होता है। पूर्व जन्मों के कर्मों के आधार पर ब्राह्मणों का जन्म दो बार होता है और ब्राह्मणों में तमाम सद्गुण रहते हैं। उनका यह बयान काफी चर्चा का विषय बना हुआ है।

संस्कृति और कानून मंत्री ए के बालन ने कहा है कि कोच्चि में सार्वजनिक समारोह में केरल उच्च न्यायालय के जज चिदंबरेश द्वारा की गई टिप्पणी “अनुचित” है। बालन ने कहा कि उच्च न्यायालय के न्यायाधीश के पद पर रहते हुए व्यक्तिगत राय व्यक्त नहीं की जानी चाहिए थी।

यह बयान जज वी चितंबरेश ने केरल ब्राह्मण सभा की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कही। जज वी चितंबरेश ने ब्राह्मणों के लिए आर्थिक आधार आरक्षण की वकालत कर नई बहस भी छेड़ने का प्रयास किया।

इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here