किसान आंदोलन का आज तीसरा दिन ,शब्जियाँ फल आदि की सप्लाई में दिक्कत

0
59

अतुल्यलोकतंत्र News दीपक शर्मा: दिल्ली। अपनी उपजों के वाजिब दाम, कर्ज माफी व अन्य मांगों को लेकर किसानों के 10 दिवसीय देशव्यापी हड़ताल का आज तीसरा दिन है। किसानों के देशव्यापी हड़ताल का असर अब धीरे-धीरे दिखने लगा है।

दिल्ली समेत एनसीआर के शहरों में दूध, सब्जी और फलों की किल्लत होने लगी है। किसानों की हड़ताल यदि आने वाले दिनों में पड़ोसी राज्यों में और तेज होती है तो दिल्ली को ताजा सब्जी, फलों और अन्य जल्द खराब होने वाली वस्तुओं की आपूर्ति में कमी का सामना करना पड़ सकता है।

आजादपुर मंडी के अध्यक्ष आदिल खान ने कहा कि यदि आने वाले दिनों में किसानों की हड़ताल जारी रहती है जो अगले हफ्ते दिल्ली में हालात बिगड़ सकते हैं। उन्होंने कहा कि दिल्ली की मंडियों में खाद्य सामग्रियों का स्टॉक है और यह अगले दो दिनों की मांग पूरा करने के लिए पर्याप्त है। यदि उसके बाद आपूर्ति नहीं होती है तो हालत चिंताजनक हो सकती है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी मध्य प्रदेश के मंदसौर में 6 जून को किसानों की रैली को संबोधित करेंगे। पिछले साल छह जून को पुलिस की गोलीबारी में सात किसानों की मौत हो गई थी। राहुल ने एक जून से 10 जून तक देशभर में आंदोलनरत किसानों के प्रति शनिवार को अपना समर्थन जताया है।

इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here