शिवसेना: राष्ट्रीय कार्यकारिणी में प्रस्ताव, सभी चुनाव अकेले लड़ेगी पार्टी

0
85
शिवसेना: राष्ट्रीय कार्यकारिणी में प्रस्ताव
शिवसेना: राष्ट्रीय कार्यकारिणी में प्रस्ताव

नई दिल्ली/अतुल्यलोकतंत्र News: भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और शिवसेना प्रमुख उद्धव के बीच बुधवार को हुई मुलाकात के बाद शिवसेना ने गुरुवार को साफ किया कि वह अकेले ही चुनाव लड़ेगी। शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि शिवसेना की राष्ट्रीय कार्यकारिणी ने एक प्रस्ताव पास किया है कि हम आने वाले सभी चुनाव अकेले लड़ेंगे। उस रेजॉल्यूशन में कोई बदलाव नहीं होगा। दोनों नेताओं के बीच दो घंटे तक कई मुद्दों पर काफी अच्छी चर्चा हुई। अमित शाह ने फिर से मिलने की बात कही है।

इससे पहले भाजपा और शिवसेना के बीच चल रहे मतभेदों के बीच बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने बुधवार को मातोश्री में बंद कमरे में करीब आधे घंटे तक बातचीत की। इस दौरान दोनों नेताओं के बीच क्या बात हुई यह तो साफ नहीं हो पाया, लेकिन माना जा रहा है कि बीजेपी की तरफ से शिवसेना से लोकसभा चुनाव और विधानसभा चुनाव में गठबंधन जारी रखने की बात कही गई है।

पार्टी सूत्रों की मानें तो बीजेपी ने सेना से उनके लिए महाराष्ट्र कैबिनेट में अगले फेरबदल के दौरान जगह बनाने और केंद्र में भी सेना के सीनियर नेताओं को जगह देने का वादा किया है। शाह और उद्धव ठाकरे की मुलाकात से पहले दोनों ने महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस और उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे के साथ भी करीब आधे घंटे तक बात की।

इन दिनों शाह और उद्धव के बीच संबंध काफी ठंडे हैं। बीजेपी अध्यक्ष बनने के बाद शाह ने दो बार ही मातोश्री का दौरा किया। बीजेपी नेताओं का कहना है कि बुधवार को शाह ने मातोश्री में काफी वक्त गुजारा और परिवार के अन्य लोगों से भी मिले। सूत्रों का कहना है कि सेना के ज्यादातर सांसद और विधायक बीजेपी के साथ गठबंधन करना चाहते हैं। उनका मानना है कि अगर बीजेपी के साथ समझौता नहीं होता तो पार्टी के सत्ता से बाहर हो जाएगी।

Previous Most Popular News Storiesकिसान आंदोलन का आज तीसरा दिन ,शब्जियाँ फल आदि की सप्लाई में दिक्कत
Next Most Popular News StoriesYMCA का अंबेडकर संस्थान से समझौता
इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here