हाथ जोड़े खड़ी थीं DCP, वकीलों का झुंड उनपर टूट पड़ा

0
12

New Delhi/Atulya Loktantra : तीस हजारी कोर्ट कॉम्प्लेक्स (Tis Hazari Court Complex) में वकीलों और पुलिस के बीच हुई झड़प का एक नया वीडियो सामने आया है. इस वीडियो में डीसीपी नार्थ मोनिका भारद्वाज हाथ जोड़े खड़ी नजर आ रही हैं और वह वकीलों से शांत होने की अपील करती दिख रही हैं, लेकिन वकीलों का झुंड उन पर टूट पड़ता है और मारपीट शुरू कर देता है. सैकड़ों की तादाद में वकील डीसीपी नार्थ मोनिका भारद्वाज और उनके सुरक्षाकर्मियों को धक्का मारते हुए पीछे की तरफ ले जाते दिखाई देते हैं. आपको बता दें कि 2 नवंबर को हुई हिंसा का कल भी एक वीडियो सामने आया था, इसमें पुलिस अधिकारी मोनिका भारद्वाज को कुछ पुलिसकर्मी वकीलों से बचाते दिख रहे हैं.

डीसीपी ने आरोप भी लगाया है कि हिंसा के दौरान उसके साथ मारपीट की गई. इतना ही नहीं महिला अधिकारी ने यह भी कहा कि इस बीच उनकी सर्विस रिवाल्वर भी छीन ली गई और ये तब से लापता है. इस मामले में पुलिस प्रवक्ता अनिल मित्तल ने कहा है कि महिला अधिकारी का बयान घटना में तैयार की जा रही एफआईआर में जोड़ा जाएगा. उधर, डीसीपी नार्थ मोनिका भारद्वाज से मारपीट का वीडियो सामने आने के बाद महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने कहा, ‘मैं इसकी निंदा करती हूं. इस मामले का स्वत: संज्ञान ले रही हूं और बार काउंसिल के साथ दिल्ली के पुलिस कमिश्नर को लिखूंगी.’

आपको बता दें कि बीते शनिवार को तीस हजारी कोर्ट परिसर में वकीलों औऱ पुलिसकर्मियों के बीच पार्किंग को लेकर विवाद शुरु हुआ. देखते ही देखते यह हिंसक हो गया. वकीलों और पुलिस की हिंसा में करीब 21 पुलिसकर्मी घायल हुए. कुछ वकीलों को भी चोट लगी. इस पूरे मामले को लेकर सैकड़ों पुलिसकर्मियों ने पुलिस मुख्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन किया और उनकी सुरक्षा में नाकाम रहने पर वरिष्ठ अधिकारियों पर कार्रवाई की मांग की है.

Previous Most Popular News Storiesमूडीज ने भारतीय अर्थव्यवस्था की रेटिंग घटाई, आउटलुक को किया नेगेटिव
Next Most Popular News Storiesअपने आइडिया को खुद तक सीमित न रखें, स्टार्ट-अप में बदलेः प्रो. दिनेश कुमार
इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here