फेक न्यूज का बड़ा सोर्स, बढ़ता तकनीकी इस्तेमाल – प्रभु चावला

0
109
Prabhu Chawla in manav rachna international institute of research and studies
Prabhu Chawla in manav rachna international institute of research and studies

फरीदाबाद/अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ : मानव रचना इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज के फैकल्टी ऑफ मीडिया स्टडीज एंड ह्यूमैनिटीज डिपार्टमेंट की ओर से नेशनल मीडिया कॉन्क्लेव का आयोजन किया गया।

वरिष्ठ पत्रकार प्रभु चावला कार्यक्रम के मुख्य अतिथि रहे। इस दौरान फेक न्यूज के प्रभाव और चुनौतियों पर चर्चा की गई। फैकल्टी ऑफ मीडिया स्टडीज एंड ह्यूमैनिटीज की डायरेक्टर डॉ. नीमो धर ने सभी का कार्यक्रम में स्वागत किया। छात्रों में भी खूब उत्साह देखने को मिला।

प्रभु चावला ने अपने सेशन के दौरान कहा कि-:

मीडिया में रहते हुए न किसी से डरें और न ही किसी का पक्ष लें,उन्होंने कहा, जब सोशल मीडिया की शुरुआत हुई थी तो किसी ने यह नहीं सोचा था कि उसका इस्तेमाल इस तरह से किया जाएगा, लेकिन आज इसका दुरुपयोग ज्यादा किया जा रहा है। फेक न्यूज का सबसे बड़ा सोर्स बढ़ता तकनीक का इस्तेमाल मीडिया है, जो कि मीडिया के लिए मॉन्स्टर बन गया है।

उन्होंने सभी छात्रों को सलाह दी आगे जाकर जब भी कोई स्टोरी करें सूचना हर जगह से लें, लेकिन उसके क्रॉस चेक जरूर करें। पहले सेशन में ‘Truth in the time of Fake News’ पर चर्चा की गई, जिसमें राज्य सभा टीवी के एडिटर इन चीफ राहुल महाजन, टाइम्स ऑफ इंडिया के सीनियर एडिटर प्रदीप बागची, इंडिया न्यूज के ग्रुप मैनेजिंग एडिटर राणा यशवंत, ऑथर और कॉलमनिस्ट सबा नक़वी, डेमोक्रेसी न्यूज लाइव के एडिटर इन चीफ रोहित गांधी पेनलिस्ट रहे।

दूसरे सेशन में ‘Fake News and Social Media’ पर चर्चा की गई , आईआईएमसी के डीजी केजी सुरेश, पंचजन्या वीकली के एडिटर हितेश शंकर, हिंदुस्तान टाइम्स के एडिटर एट लार्ज राजेश महापात्रा, और मणिपुर सीएम के प्रिंसिपल एडवाइजर रजत सेठी मौजूद रहे। मौके पर नेशनल मीडिया कॉन्क्लेव की सौवेनीर का विमोचन भी किया गया। इस दौरान एमआरआईआईआरएस के वीसी डॉ. एनसी वाधवा, मानव रचना के ट्रस्टी डॉ. एमएम कथूरिया भी मौजूद रहे।

इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here