अपने आइडिया को खुद तक सीमित न रखें, स्टार्ट-अप में बदलेः प्रो. दिनेश कुमार

0
5

Faridabad/Atulya Loktantra : विद्यार्थियों की इनोवेटिव सोच को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से जे.सी. बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद द्वारा आडियाथॉन 1.0 इवेंट का आयोजन किया। कंप्यूटर इंजीनियरिंग विभाग तथा कंप्यूटर अनुप्रयोग विभाग के संयुक्त तत्वावधान में आयोजन इस इवेंट में विद्यार्थियों की रचनात्मक तथा अभिनव सोच को प्रोत्साहित किया गया।

इवेंट के दौरान विभिन्न विषयों जैसे कि इंटरनेट ऑफ थिंग्स, साइबर सिक्योरिटी, हेल्थकेयर, एंटरटेनमेंट तथा स्मार्ट एग्रीकल्चर में 56 विद्यार्थियों ने अपने विचारों का प्रदर्शन किया। कार्यक्रम के समापन पर पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन किया गया, जिसमें विद्यार्थियों को उनके अभिवन विचारों के लिए नकद पुरस्कार से पुरस्कृत किया गया। इस अवसर पर कुलपति प्रो. दिनेश कुमार, कुलसचिव डॉ एस. के. गर्ग और औद्योगिक विशेषज्ञ रशीम कपूर, हेमंत कोहली और मुकेश कुमार भी उपस्थित थे।

इस अवसर पर बोलते हुए कुलपति प्रो. दिनेश कुमार कहा कि विद्यार्थियों को अपने स्टार्ट-अप आइडिया केवल इस आयोजन तक सीमित नहीं रखने चाहिए, बल्कि विश्वविद्यालय इंक्यूबेशन सेंटर के माध्यम से स्टार्ट-अप आइडिया पर काम करना चाहिए। उन्होंने विद्यार्थियों को स्टार्ट-अप को डिजाइन करने के लिए अंतःविषय दृष्टकोण अपनाने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि इनोवेटिव आइडिया की कोई कमी नहीं है, लेकिन, समस्या यह है कि हमारे आइडिया एक ही दिशा में हैं जबकि आइडिया के प्रकार बदल रहे हैं। नए आइडिया अंतःविषय नवाचारों पर आधारित होने चाहिए जोकि भविष्य है।

कंप्यूटर इंजीनियरिंग विभाग के अध्यक्ष डॉ. कोमल कुमार भाटिया और कंप्यूटर अनुप्रयोग विभाग के अध्यक्ष प्रो. अतुल मिश्रा ने विद्यार्थियों को प्रोत्साहित किया। डॉ. भाटिया ने कहा कि आयोजन की सफलता तथा प्रतिभागियों के उत्साह देखते हुए विभाग ऐसे आयोजन प्रतिवर्ष करवाने पर विचार करेगा।

इवेंट में विद्यार्थियों द्वारा प्रस्तुत आइडिया को मूल्यांकन के लिए उद्योग के विशेषज्ञों के पैनल के समक्ष प्रस्तुत किया गया, जिसमें विषय आधारित विजेता घोषित किये गये तथा विजेता टीम को 5000 रुपये का नकद पुरस्कार दिया गया, जबकि ओवरआल विजेता टीम को 10,000 रुपये के नकद पुरस्कार प्रदान किया गया। टीम अल्फा से श्याम जैन और सनी सिंह को इवेंट का ओवरआल विजेता घोषित किया गया। इवेंट में आइडिया थीम के समन्वयकों में डॉ. पारूल तोमर, डॉ. सपना गंभीर, डॉ. ललित मोहन गोयल, डॉ. पूनम, डॉ. पायल गुलाटी और डॉ. नीलम दूहन शामिल रही। इवेंट का सफल संचालन श्रुति शर्मा, डॉ. पारुल गुप्ता, डॉ. पायल गुलाटी और डॉ. पूनम द्वारा किया गया।

Previous Most Popular News Storiesहाथ जोड़े खड़ी थीं DCP, वकीलों का झुंड उनपर टूट पड़ा
Next Most Popular News Storiesलिंग्याज के दो दिवसीय वार्षिक ‘जेस्ट-जज्बा 2019’ का शानदार आगाज
इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here