गंगा अब सरकार का मुद्दा ही नहीं रहा – जलपुरुष डॉ राजेंद्र सिंह

0
86
Ganga is no longer the issue of government - Jalpur Rajendra Singh
Ganga is no longer the issue of government - Jalpur Rajendra Singh

Faridabad/Atulyaloktantra News : अंर्तराष्ट्रीय नदी दिवस के तहत 30 सितम्बर 2018 से 14 जनवरी 2019 तक ‘गंगा सद्भावना यात्रा’ गौमुख से गंगा सागर तक के कार्यक्रम के दौरान गंगा बचाओ आंदोलन का नेतृत्व कर रहे जलपुरूष डॉ. राजेन्द्र सिंह ने फरीदाबाद मेें एक प्रैस वार्ता कर पत्रकारों को बताया कि गंगा की दुर्दशा से आहत स्वामी ज्ञान स्वरूप सानंद पिछले 22 जून से उपवास पर है, जिन्हें करीब 100 से ऊपर दिन हो चुके है। आज स्वामी सानंद मृत्यु के करीब आ गए लेकिन सरकार बिल्कुल भी सम्वेदनशील नहीं है उनके लिए ,यह बताता है कि गंगा सरकार के मुद्दे में ही नहीं है अब । उनकी सरकार से मांग है कि गंगा पर 2012 के प्रस्तावित अधिनियम को पारित कराना और इस पर अध्यादेश सरकार लाए।

स्वामी सानंद गंगा के पर्यावरणीय प्रवाह को बनाए रखने के लिए गंगा में बनाए जा रहे पन बिजली के सभी प्रोजेक्ट बंद करवाए जाए। गंगा में सभी खनन बंद हो। सरकार गंगा पर बनाए जाने वाली कमेटी गंगाभक्तो की बनाए। उन्होंने बताया कि अगर सरकार आश्वासन के बाद भी डॉ. जी. डी अग्रवाल उर्फ स्वामी सानंद की मांगों पर जल्द विचार नही करती है तो 9 अक्टूबर की रात से, जो अभी तक नीम्बू पानी ले रहे है वो भी बंद कर देंगें। उनकी मृत्यु की जिम्मेदार सरकार होगी।

Ganga is no longer the issue of government - Jalpur Rajendra Singh
Ganga is no longer the issue of government – Jalpur Rajendra Singh

यह घोषणा लिखित में स्वामी सानंद कर चुके है। इस आंदोलन में मात्र सदन हरिद्वार, ग्रीन इंडिया फाऊंडेशन ट्रस्ट फरीदाबाद के अध्यक्ष डॉ. जगदीश चौधरी, पर्यावरणविद् ज्ञानेन्द्र रावत, रमेश शर्मा, रविन्द्र फौजदार, तरूण भारतसंघ अलवर, जल जन जोड़ो अभियान शामिल है।

Previous Most Popular News Storiesहमारा लक्ष्य भारत के मिशन गगनयान को अंतरिक्ष भेजना – नरेंद्र मोदी
Next Most Popular News Storiesपारुल साहनी बनीं मिसेज फरीदाबाद
इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here