सराय स्कूल में मनाया अंतरराष्ट्रीय वृद्धजन दिवस

0
11

Faridabad/Atulya Loktantra : राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सराय ख्वाजा की जूनियर रेडक्रास और सैंट जॉन एम्बुलेंस ब्रिगेड प्रभारी व अंग्रेजी प्रवक्ता रविन्द्र कुमार मनचन्दा ने अंतरराष्ट्रीय वृद्धजन दिवस पर बच्चों को प्रार्थना सभा में संबोधित करते हुए कहा कि हमारे बुजुर्ग के होते हुए हम सुरक्षित है उनका आशीर्वाद, उनका अनुभव तथा उन के जीवन जीने के नजरिए से युवा पीढ़ी बहुत व्यावहारिक बातें सीख सकती है।

उन्होंने बच्चों को बताया कि आज एक अक्टूबर को अंतरराष्ट्रीय वृद्ध दिवस मनाया जाता है। समाज और नई पीढ़ी को सही दिशा दिखाने और मार्गदर्शन के लिए वरिष्ठ नागरिकों के योगदान को सम्मान देने के लिए इस आयोजन का फ़ैसला संयुक्त राष्ट्र ने 1990 में लिया था।

संयुक्त राष्ट्र ने विश्व में बुजुर्गों के प्रति हो रहे दुर्व्यवहार और अन्याय को समाप्त करने के लिए और लोगों में जागरुकता फैलाने के लिए14 दिसम्बर, 1990 को यह निर्णय लिया कि हर वर्ष 1 अक्टूबर को अंतरराष्ट्रीय बुजुर्ग दिवस के रूप में मनाकर हम बुजुर्गों को उनका सही स्थान दिलाने की कोशिश करते है। उम्मीद है कि आज हम वरिष्ठ नागरिक दिवस मना कर अपने कर्तव्यों का निर्वाह करने के साथ साथ समाज में उनको उचित स्थान देने की कोशिश करें ताकि उम्र के उस पड़ाव पर जब उन्हे प्यार और देखभाल की सबसे ज्यादा जरूरत होती है तो वो जिंदगी का पूरा आनंद ले सके।

उन्होंने बच्चों को बताया कि घर या बाहर में जब भी कोई बुजुर्ग किसी भी प्रकार से कोई मदद या कार्य के लिए कहें तो हमारा कर्तव्य है कि हम उस कार्य को शीघ्र पूरा करें, उनके पास बैठ कर उन की बातें सुन, वो क्या चाहते है , पूरा ध्यान रखें। इस अवसर पर प्राचार्या नीलम कौशिक व रूप किशोर, बिजेंद्र सिंह, वेदवती सहित समस्त स्टाफ ने भी उपस्थित रह कर बुजुर्गों के साथ समय का सदुपयोग करने की और विभिन्न विषयों पर उन से चर्चा कर सलाह लेने की सीख दी, क्योंकि उन का अनुभव हमारे लिए बहुत ही अहम है।

Previous Most Popular News Storiesछात्रों ने सिंगल यूज प्लास्टिक इस्तेमाल न करने की दिलाई शपथ
Next Most Popular News Storiesबड़ा फैसला : प्रशासन ने खत्म की जम्मू में नेताओं की नजरबंदी
इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here