प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के सहयोग से बच्चों को वितरित किए जूट के थैले

0
7

Faridabad/Atulya Loktantra : राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सराय ख्वाजा की जूनियर रेडक्रास और सैंट जॉन एम्बुलेंस ब्रिगेड ने प्राचार्या नीलम कौशिक की अध्यक्षता में आयोजित कार्यक्रम में अंग्रेजी प्रवक्ता रविन्द्र कुमार मनचन्दा ने हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के सहयोग से बच्चों को जूट के थैले वितरित किए।

विद्यार्थियों को जूट के थैले वितरित करते हुए जूनियर रेडक्रास तथा सैंट जॉन एम्बुलेंस ब्रिगेड प्रभारी रविन्द्र कुमार मनचन्दा ने बच्चों को बताया कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली में वायु प्रदूषण का स्तर दीपावली के बाद से अत्यधिक बढ़ गया है। सड़को पर तेज गति से गुजरते वाहनों से, सड़कों तथा सड़क किनारे पर पड़ी मिट्टी वाहनों के धुएं के साथ मिल कर उड़ कर वायु को विषेली बना रही है, साथ ही सिंगल यूज प्लास्टिक का तथा अन्य कारणों से पर्यावरण प्रदूषण में निरंतर वृद्धि होती जा रही है।

बच्चों को आगाह किया गया कि वे पलास्टिक का प्रयोग ना करें और प्लास्टिक की पॉलिथीन के स्थान पर कपड़े अथवा जूट के थैले का प्रयोग करें। रविन्द्र कुमार मनचन्दा ने कहा कि हम सभी को अपनी आदतों में बदलाव लाना होगा और बाजार में सब्जी, फल अथवा किरयाने का सामान लाने के लिए थैला साथ ले जाना होगा। ऐसा करके हम आने वाली पीढ़ियों को स्वच्छ पर्यावरण, शुद्ध वायु और शुद्ध जल की सौगात दी सकेंगे। इसी कड़ी में 150 जूट के थैलों को सभी अध्यापकों और जूनियर रेड क्रॉस मेंबर्स बच्चों को बांटा गया।

अब तक प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के सहयोग से 600 से भी अधिक जूट के थैले बच्चों, अध्यापकों तथा सराय के निवासियों को वितरित किए गए है ताकि पॉलिथीन के प्रयोग पर रोक लग सके। इस अवसर पर रविन्द्र कुमार मनचन्दा, विनोद बैंसला, सुनील नागर, राम कुमार, प्रदीप राठी, बिजेंद्र सहित स्टाफ के सभी अध्यापकों तथा प्राचार्या नीलम कौशिक ने सभी बच्चो से पॉलिथीन का प्रयोग न करने की अपील की।

Previous Most Popular News Storiesज्यादा दिनों तक सत्ता में नहीं रहेगी भाजपा-जजपा गठबंधन : सुमित गौड़
Next Most Popular News Storiesदिल्ली पुलिस के खिलाफ फरीदाबाद के समाजसेवियों ने दिया ज्ञापन
इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here