पाकिस्तान की ओर से राज्य में घुस सैकड़ों आतंकवादी

0
6

Jammu/Atulya Loktantra : जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने रविवार को बताया कि राज्य में 200 से 300 आतंकवादी सक्रिय हैं। बकौल पुलिस महानिदेशक, पाकिस्तान ने सर्दियां शुरू होने से पहले अधिक से अधिक संख्या में आतंकवादियों को राज्य में दाखिल कराने के लिए सीमापार से गोलीबारी तेज कर दी है। उन्होंने यह भी कहा कि हाल ही में सीमा पार से बड़ी संख्या में आतंकवादी राज्य में घुसने में कामयाब रहे हैं, जबकि घुसपैठ निरोधक व्यवस्था ने कई घुसपैठियों का सफाया कर उनकी कई कोशिशें विफल कर दी हैं।

जम्मू कश्मीर में 200-300 आतंकी सक्रिय
सिंह ने सुरक्षा स्थिति की समीक्षा के लिए सीमावर्ती पुंछ जिले के अपने दौरे में संवाददाताओं से कहा, ‘(जम्मू कश्मीर में) सक्रिय आतंकवादियों की संख्या 200 से 300 तक है। यह आंकड़ा सामान्यत: स्थिर नहीं रहता है और ऊपर-नीचे होता रहता है।’ पुलिस महानिदेशक ने कहा, ‘जम्मू-कश्मीर क्षेत्रों में बड़ी संख्या में संघर्ष विराम उल्लंघन हो रहा है। (अंतरराष्ट्रीय सीमा के समीप) कनाचक, आर एस पुरा और हीरानगर में और पुंछ, राजौरी, उरी, नांबला, करनाह और केरन में नियंत्रण रेखा पर ऐसा हो रहा है।’

पाकिस्तानी आतंकी घुसपैठ की फिराक में हैं
उन्होंने कहा, ‘इन संघर्षविराम उल्लंघनों का लक्ष्य (सर्दियां शुरू होने से पहले) अधिक से अधिक आतंकवादियों को जम्मू कश्मीर में दाखिल कराना है। हमारा घुसपैठ निरोधक प्रबंध बहुत मजबूत है और हाल के समय में घुसपैठ के कई प्रयास विफल किए गए हैं।’ सिंह ने कहा, ‘इस तरफ आने के बाद कुछ मुठभेड़ हुई और कुछ आतंकवादियों का सफाया भी हुआ। गुलमर्ग सेक्टर में दो पाकिस्तानी आतंकवादी गिरफ्तार किए गए और गांदेरबल में चार दिन के अभियान में दो आतंकवादी मारे गए।’

जम्मू, लेह और कारगिल में स्थिति शांतिपूर्ण
उन्होंने कहा कि कुछ स्थानों पर कुछ आतंकवादी देखे गए हैं और हमने उनके खिलाफ अभियान तेज कर दिया है। अनुच्छेद 370 के तहत जम्मू-कश्मीर को प्राप्त विशेष राज्य का दर्जा समाप्त करने के बाद राज्य की स्थिति के बारे में उन्होंने कहा कि जम्मू, लेह और कारगिल में स्थिति शांतिपूर्ण है तथा कश्मीर में चीजें सुधर रही हैं।

Previous Most Popular News Storiesउद्धव बोले- कंप्रोमाइज किया, लेकिन शिवसेना का CM बनने तक शांत नहीं बैठूंगा
Next Most Popular News Storiesफडणवीस सरकार की मुसीबत बने ‘आरे’ के 2500 पेड़, NGT से मिल चुकी थी काटने की मंजूरी
इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here