…तो क्या मौजूदा विधायक डूबो देंगे भाजपा की नईया

0
36

Faridabad/Atulya Loktantra : भाजपा के सीएम खट्टर ने इस बार रैली करके 75 पार का नारा दिया है लेकिन 75 पार करना भाजपाईयों के लिए टेढ़ी खीर बनता जा रहा है। फरीदाबाद शहर के कुछ मौजूदा विधायक अपनी सीट ही बचा ले तो गनीमत होगी, क्योंकि इन विधायकों से जनता खासी नाराज है और इस विधानसभा में इन्हे मजा चखाने के लिए पूरी तरह से तैयार है, ऐसे में भाजपा कैसे अपने ब्यान को सच साबित कर पाएगी। इतना ही नहीं विपक्षी पार्टियां इस बात की प्रार्थना कर रही हैं कि भाजपा मौजूदा विधायकों को ही टिकट दे ताकि जनता अपनी नाराजगी प्रकट करे और अधिकतर सीटों पर उनकी जीत हो.

सूत्रों की माने तो अगर पृथला से विधायक टेकचंद शर्मा, बडखल से सीमा त्रिखा, बल्लभगढ़ से मूलचंद शर्मा और एनआईटी से नगेन्द्र भडाना को टिकट मिलती है तो भाजपा को ये सीटे गवानी पड़ सकती है। वहीं तिगांव से देवेन्द्र चौधरी मजबूत उम्मीदवार नजर आ रहे हैं और ओल्ड फरीदाबाद से विपुल गोयल को जनता पसन्द कर रही है।

जनता ये तो मानती है कि हरियाणा भाजपा सरकार ने फरीदाबाद के विकास के लिए अच्छे खासे पैसे दिए लेकिन जनता यह भी मानती है कि कई भाजपा और समर्थक विधायकों ने खूब घोटाले किये हैं और सरकारी पैसों की बंदरबांट हुई है. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर दावे कर रहे हैं कि उन्होंने फरीदाबाद के विकास के लिए 12 हजार करोड़ रुपये दिए हैं लेकिन जनता उनके दावे सुनकर हैरान है। फरीदाबाद में ना तो कोई बड़ा प्रोजेक्ट आया, सरकारी इमारतों, सीवर और सडक़ों में घटिया मैटेरियल लगाकर विधायक ने कमीशनखोरी करके मोटा मुनाफ़ा कमाया।

अगर भाजपा ने वर्तमान विधायकों के टिकट काटकर अच्छे उम्मीदवारों को मौका दिया तो दोबारा सरकार बनने पर सही विकास हो सकता है लेकिन जनता यह भी तय कर चुकी है कि अगर वर्तमान विधायकों को टिकट मिला तो इनको सबक सिखाना है। विपक्षी पार्टियां इसी बात का इन्तजार कर रही हैं। विपक्षी पार्टियां चाहती हैं कि भाजपा वर्तमान विधायकों को टिकट दे और जनता इन्हें सबक सिखाए।

Previous Most Popular News Storiesदल-बदलू कांग्रेसी नेता अवतार भड़ाना पर CM योगी मेहरबान
Next Most Popular News Storiesमोदी को ट्रंप ने कहा ‘फादर ऑफ इंडिया’, भड़का विपक्ष बोला
इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here